partnership transactions kya hota hai

partnership transactions kya hota hai

साझेदारी सम्बन्धी लेन -देन क्या है ?

partnership transactions kya hota hai :- ये दोहरा लेखा प्रणाली के आधार पर किया गया एक लेखा होता है, साझेदारी में भी एकाकी व्यवसाय की तरह प्रति वर्ष के अंत में व्यापारिक खाता, लाभ -हानि खाता और स्थिति विवरण आदि को बनाया जाता है। 

इसमें ये अंतर होता है की साझेदारी में लाभ -हानि खाता बनाने के पश्चात इस शुद्ध लाभ के साझेदारों में विभाजन के लिए के लाभ -हानि नियोजन खाता को बनाया  जाता है। 

partnership transactions kya hota hai

साझेदारी सम्बन्धी लेन -देन का लेखा इस तरह से रखा जाता है। 

Partnership Transactions कैसे बनाया  जाता है ?

How to make Partnership transactions ?

लाभ -हानि नियोजन खाता 

Profit & loss appropriation account

  
To salaries of partners
To Commission to partners
To Interest on partner’s Capitals
To Reserve A/c
To Profit transferred to :
A’s Capital A/c
(or A’s Current A/c)
B’s Capital A/c
(or B’s Current A/c)
By Profit & loss A/c
(Profit transferred from P&l A/C)
By Interest on Drawings :
A
B




लाभ -हानि नियोजन खाता

ये भी पढ़े :-

इस पोस्ट (partnership transactions kya hota hai ) में हमने जाना की साझेदारी सम्बन्धी लेन -देन का लेखा कैसा किया जाता है ? और लाभ -हानि खाता कैसे बनाया जाता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *