Home » origin of transactions kya hai source document

origin of transactions kya hai source document

origin of transactions kya hai source document

लेनदेनों का प्रारम्भ – लेखांकन के मूल प्रपत्र क्या है ?

origin of transactions kya hai source document :- हर तरह के व्यवसाय में हर दिन बिभिन – विभिन तरह के लेन -देन होते है जैसे की माल और सेवा का क्रय – विक्रय आदि, और लेखांकन के मूल प्रलेख द्वारा विवरण को सही तरह रखा जाता है । इसके बारे मे हम आगे जानेगें । 

What is Origin of Transactions in hindi 

लेनदेनों का प्रारम्भ  क्या है ?

लगभग हर तरह के business में हर दिन कई तरह के लेन -देन होते है जैसे की किसी माल या फिर सेवा को क्रय या फिर विक्रय करना, नकदी की प्राप्ति या फिर भुगतान करना।  हर वयवशयिक लेन -देन लिखित परलेखो के माध्यम से प्रमाणित होना चाहिए जैस की कैश मीमो, बीजक और बिल, नाम पत्र और जमा पत्र, जमा पर्ची या फिर check आदि।

इन वयवशयिक प्रलेखो को मूल प्रलेख कहते है , या फिर लेनदेनों का प्रारम्भ कहते है। 

Source Documents of Accountancy in hindi origin of transactions kya hai source document

लेखांकन के मूल प्रलेख क्या है :-

लेखांकन  के मूल प्रलेख हर तरह के business लेनदेनों के विवरण का सबसे प्रारम्भ का record होता है, और ये प्रलेख लेन -देन की तारीख, राशि, और सम्बंधित पक्ष्कारो लेनदेनों की प्रकृति के बारे में जानकारी को प्रदान करते है।

इस बात का दयँ रखे की पुस्तकों में केवल मूल प्रलेखो के bases पर ही entries को किया जाता है। और लेखांकन की जाँच करने लायक लिखित प्रमाण की अवधारणा के अनुसार, पुस्तकों में लिखे गए प्रतेक  लेन -देन का लिखित प्रमाण होना चाहिए। 

और यह प्रलेख पुस्तकों में लिखे लेन -देनो की सही होने का प्रमाण भी होते है।  और इसका प्रयोग कर निर्धारण के समय भी होता है। इसका प्रयोग किसी तरह के विवाद या फिर क़ानूनी प्रमाण का भी कार्य करते है। 

types of source documents class 11 in hindi 

लेखांकन के मूल प्रलेख के प्रकार निम्नलिखित है :-

  • केश मीमो या रोकड़ मीमो (Cash Memo)
  • बीजक और बिल (Invoice and Bills)
  • नाम पत्र (Debit Note)
  • रशीद (Receipt)
  • जमा पत्र (Credit Note)
  • जमा पर्ची (Pay in ship)
  • चेक (Cheque)

कैश मीमो या रोकड़ मीमो (Cash Memo) क्या है ?

जब कभी व्यापारी माल नकद sale करता है तो कैश मीमो देता है या फिर  जब माल नकद खरीदते है तो कैश मीमो को प्राप्त किया जाता है।  कैश मीमो में माल की मात्रा दर या कुल कीमत दी गयी होती है। नकद लेन -देनो का कैश मीमो के आधार पर ही पुस्तकों में लेखा करते है। 

Example of cash memo in hindi origin of transactions kya hai source document

CASH MEMO

GLOBL WATCH CO.

X – 52 Jamshed colony, Delhi – 110015

No.                                                                  Dated :- 16/03/2018

To……………………

Qty.DescriptionRate ₹Amount ₹
3
2
Electrical Kit
Motor kit
2,300
2,700
6,900
5,400
Less Discount 10 %12,300
1,230
Total 11,070
Goods once sold are not taken back or exchanged

बीजक और बिल (Invoice and Bills)  क्या है ?

जब कभी वयापारी माल को उधार बेचता है तो वह एक विक्रय बीजक बनाकर ग्राहक को भेजता है जिसमे ग्राहक का नाम, माल की मात्रा, दर और कुल कीमत दी हुई होती है। विक्रय बीजक की मूल प्रतिलिपि तो ग्राहक की भेज दिया जाता है और इसको दूसरी प्रतिलिपि पुस्तकों में लेखा करने के लिए अपने ही पास राखी जाती है। origin of transactions kya hai source document

इस तरह से वयापारी उधार माल खरीदता है तो उसको माल के विक्रेता से माल का बिल प्राप्त होता है और इसको हम उधार विक्रय करते है तो हम बीजक (invoice) को  बनाते है और इसी तरह जब हम उधार माल को खरीदते है तो हमको बिल प्राप्त होता है। अतः यह दोनों शब्द समान अर्थो में प्रयोग किये जाते है। 

Shyam Electronics

C – 29 Town Market New Delhi – 110002

No.                                                                  Dated :- 16/03/2018

Name of customewr :- Ram Industries

Terms :- 5% cash discount if payment is made within 30 days.

QtyDescriptionRate ₹Amount ₹
2Water Heater23,30046,600
18 kg Washing Machine19,500 19,500
2L.E.D 32 Inch 14,50029,000


Sales Tax @ 10%


Handling and delivery charges
Total
95,100
9,510
——
1,04,610
400
1,05,010
Rupees One lac five thousand and ten only

E&O.E.                                                                                           …………………………

                                                                                                   For shyam Electronics

नाम पत्र (Debit Note)  क्या है ?

नाम – पत्र में हम जब किसी भी पूर्तिकरता को माल वापिस करते है तो इसमें हम एक  “नाम पत्र ”  बनाते है और इसे वापिस किये गए माल के साथ पूर्तिकर्ता को भेज दिया जाता है। नाम पत्र एक ऐसा प्रलेख होता है जो यह बताता है की पूर्तिकर्ता का खाता debit किया जा रहा है। यह एक मूल प्रलेख होता है जिसमे लेन -देन की तारीख, debit किये गए खाते का नाम, राशि और debit करने का कारण दिया हुआ होता है। origin of transactions kya hai source document

नाम पत्र (Debit Note) Example

DEBIT NOTE 

CKG PRODUCTS LTD
506, Main Corner
Road Delhi
No ……………..
Date……………
To,
Name and Adress ( Of the person to whom it is sent)…………………………………….
Amount ₹
15 light kit, your invoice no 250, are being returned as the lights kit damaged 6,000
For CKG Products Ltd.
Manager

Debit Notes

रशीद (Receipt) क्या होता है ? example

जब कभी वायपारी दुयारा किसी customer से कोई राशि प्रपट करता है और उसको जिस तिथि, धनराशि, customer का नाम लिखा हुआ होता है । और इस रशीद की मूल परतिलिपि customer को दे दी जाती है और एक दूसरी परतिलिपि के माध्यम से पुस्तक मे लेखा कर दिया जाता है और इसको अपने पास रख लिया जाता है । इस तरह जब वायपारी किसी को भुगतान करता है तो उसको एक रशीद प्राप्त होती है । origin of transactions kya hai source document

जमा पत्र (Credit Note) क्या है rule example 

जब कभी वयापारी को उधार बेका गया माल वापस प्राप्त होता है तो वह ग्राहक को “जमा पत्र” भेजता है जिसके bases (आधार ) पर वह ग्राहक के खाते को credit करता है और जमा पत्र की एक प्रतिलिपि पुस्तकों में लेखा करने के लिए अपने पास रख ली जाती है। origin of transactions kya hai source document

जमा पर्ची (Pay in ship) क्या है ?

ये एक ऐसा form होता है जो हमको bank से प्राप्त होता है और इसे  बैंक में राशि जमा करने के लिए प्रयोग किया  जाता है , और एक एक जमा पर्ची के साथ एक रसीद लगी हुई होती है जिस पर बैंक की casheir अपने signature करके व bank की मोहर लगाकर ग्राहक को वापस कर देता है। 

चेक (Cheque)  क्या है ?

 यह किसी bank का लिखा हुआ एक आदेश पत्र होता है जिसमे bank को यह आदेश होता है की वह इसमे लिखी राशि इसके ग्राहक को या जिसका नाम इस पर लिखा है उसे ग्रहण किया जाता है हर चैक के साथ एक counterfoil प्रति – पत्रक लगा हुआ होता है जिसमे वे सभी बाते लिख दिया जाता है जो check पर लिखी है । और यह प्रति पत्रक भावी संदर्भ हेनू check देने वाले के पास रहती है । origin of transactions kya hai source document

ये भी पढ़े :- 

Conclusion

लेनदेनों का प्रारम्भ  क्या है ? origin of transactions kya hai source document

लगभग हर तरह के business में हर दिन कई तरह के लेन -देन होते है जैसे की किसी माल या फिर सेवा को क्रय या फिर विक्रय करना, नकदी की प्राप्ति या फिर भुगतान करना। 

लेखांकन के मूल प्रलेख के प्रकार ?

केश मीमो या रोकड़ मीमो (Cash Memo)
बीजक और बिल (Invoice and Bills)
नाम पत्र (Debit Note)
रशीद (Receipt)
जमा पत्र (Credit Note)
जमा पर्ची (Pay in ship)
चेक (Cheque)

इस पोस्ट origin of transactions kya hai source document मे जाना की लेनदेनों का प्रारम्भ – लेखांकन के मूल प्रपत्र क्या है और इसको accounting मे कैसे प्रयोग किया जाता है । आप अपने question को comment boxके माध्यम से भी पूछ सकते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *