Home » Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

ख्याति के मूल्यांकन की विधियाँ 

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi :ख्याति हम जानते है की ये एक अदृस्य सम्पति है, और इसका उचित मुलाय ज्ञात करना एक कठिन कार्य होता है। व्य्वसाय के विक्रय की दशा में इनका मूल्य क्रेता तथा विक्रेता के आपसी ठहराव पर निर्भर करता है। ख्याति के मूल्यांकन की निम्न विधियाँ इस प्रकार से है जो की goodwill valuation में परीपग की जाती है।

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi (ख्याति के मूल्यांकन की विधि)

ख्याति के मूल्यांकन की विधियों को स्पष्ट कीजिए

Valuation of goodwill Meaning in Hindi

ख्याति छाती के मूल्यांकन का आधार क्या है

ख्याति के मूल्यांकन की विधियाँ निम्नलिखित है :-

  1. औसत लाभ विधि (Average profit method)
  2. अधि -लाभ विधि (Super Profit Method)
  3. पूँजीकरण विधि (Capitalisation Method)

औसत लाभ विधि क्या है ? What is Average profit method ?

औसत लाभ विधि goodwill मूल्यांकन करने का एक सरल और वाहवाहरिक method है। इस विधि में goodwil का मूल्यांकन कुछ गत वर्षो के लाभों के औसत को एक निश्चित संख्या ( जैसे की चार वर्षो के क्रय के बराबर या पांच वर्षो के क्रय के बराबर आदि) से गुणा करके करते है।

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

औसत लाभ विधि Formula 

Value of goodwill = Average Profit × Number of years Of purchase

इस method के अंदर गत वर्षो का औसत लाभ को ज्ञात किया जाता है।  इस लाभ को निकालने का यह उदेशय होता है की भविषय में व्य्वसाय में कितने अनुपात में लाभ होंगें। इस विधि में पिछले प्रतेक वर्ष के वास्तविक लाभों में निम्न समायोजन करने के पश्चात ही औसत लाभ  को निकालना चाहिए।

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

औसत लाभ विधि का सूत्र के नियम 

  1. वर्ष की असाधारण आय को सम्बंधित वर्ष की आय से कम करना जरुरी होता है।
  2. वर्ष की असाधारण हानि को सम्बंधित आय में जोड़ दिया जाना अवशयक है।
  3. विनियोगो की आय को सम्बंधित वर्ष की आय में से कम क्र देना चाहिए, ऐसा इसलिए क्यूंकि यह आय व्यवसाय को सामान्य वाहवाहरिक आय नहीं होता है।

भारित औसत लाभ विधि क्या है ? What is weighted average profit method in hindi ?

ये method औसत लाभ विधि का संशोधित रूप है। इस method में हम प्रतेक वर्ष के लाभ को भार प्रदान किया जाता है।  और इसमें हम सबसे नए वर्ष के लाभ को सबसे अधिक भार प्रदान किया  जाता है।

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

जैसे की वर्ष 2014, 2015, 2016 और 2017 के लाभ दिए गए है और भारित औसत लाभ ज्ञात करने हो तो भार इस प्रकार निम्न प्रकार से प्रदान किये जायेगें :-

2014-1 , 2016 -2, 2016-3, 2017-4

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

इसके बाद गुणनफल ज्ञात किया जाता है इसको ज्ञात करने के लिए प्रदान किये गए भार से गुणा किया जाता है।  और गुणनफल के जोड़ को भार के जोड़ से भाग देकर भारित औसत लाभ ज्ञात किया जाता है।

इसके बाद हम भारित औसत लाभ को वर्षो के क्रय की संख्या से गुणा करके goodwill का मूल्य ज्ञात किया जाता है।

weighted average profit method in hindi

weighted average profit = Total of products of profits/Total of weights

Goodwill = weighted average profit × Number of year’s purchase

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

ये भी पढ़े :-

  1. Goodwill  क्या है ?
  2. https://www.techkaushal.com/change-in-profit-sharing-ratio-among-the-existing-partners-in-hindi/
  3. https://www.techkaushal.com/adjustment-in-closed-account-class-12-in-hindi/

अधि -लाभ विधि क्या है ? What is Super Profit Method?

इस विधि में मुख्य रूप से यह देखा जाता है की अन्य व्यवसायो की तुलना में हमारी फर्म में कितने लाभ हो रहा है। और अन्य फर्मो की तुलना में अपने फर्म में जितने अधिक लाभ प्राप्त हो रहे है, उन्ही लाभों को हम अधि लाभ कहते है और उन्ही अधिलाभो के आधार पर goodwill की गणना की जाती है।

Example :- यदि व्यवसाय में हमारी जैसी अन्य फर्मो में 20 % लाभ हो रहे है और हमारी कंपनी में 1,00,000 रूपए की नियोजित पूंजी पर 30,000 रूपए लाभ  हो रहे है तो सामान्य लाभ 1,00,000 रूपए पर 15 % = 15,000 होना चाहिए जबकि वास्तविक लाभ 30,000 रूपए हो रहे है।

इससे ये स्पष्ट हो जाता है की 30,000 -15,000 = 15,000 अधिलाभ प्राप्त हुए है। और हम अधिलाभो को एक निश्चित संख्या से गुणा करके ख्याति का मूल्यांकन किया जाता है जैसे की दो वर्षीय क्रय या तीन वर्षीय क्रय आदि।

Super Profit Method Formula 

  1. Normal Profit = capital invested × Normal rate of return/100
  2. Super Profit = Actual or average profit – Normal profit
  3. Goodwill = Super profit × No. of years purchased

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

पूँजीकरण विधि  क्या है ? What is Capitalisation Method in hindi

इस method में goodwill की गणना निम्न दो प्रकार से की जाती है :-

  1. औसत लाभों के पूंजीकरण द्वारा (By capitalishing the average profits)
  2. अधिलाभो के पूंजीकरण दुआरका (By capatalishing the super profits)

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

औसत लाभ पूंजीकरण विधि क्या है ? capitalishing of average profits method in hindi

इस Method में सबसे पहले हम औसत लाभ को ज्ञात करते है और उसके बाद ये ज्ञात करते है की सामान्य प्रतिफल की दर से इस औसत लाभों को सबसे पहले अर्जित करने के लिए कितनी पूंजी की अवयसकता होगी और ऐसी पूंजी को औसत लाभों का पूंजीगत मूल्य भी कहते है।

इसकी गणना निम्न तरह से की जाती है :-

capitalised value of average profits = Average Profits × 100 / Normal Rate of Return

exmple के लिए यदि कोई फर्म औसत रूप से 40,000 रूपए वार्षिक लाभ अर्जित करती है और समान्य प्रतिफल की दर 10 % वार्षिक है तो औसत लाभों का पूँजीगत मूल्य निम्नलिखित होगा :-

40,000 × 100/10 = 4,00,000

Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi

अधिलाभ पूंजीकरण विधि क्या है ? capitalishing of super profits method in hindi

इस method में हम सबसे पहले अधिलाभ को ज्ञात करते है और इसके बाद कितनी पूंजी की जरूरत है इसको ज्ञात करते है।  यह पूंजी वास्तव में goodwil की राशि है। इसके लिए निम्न formula का प्रयोग किया जाता है:-

Goodwill = Super Profit × 100/Normal rate of return

Conclusion

इस पोस्ट (Methods of valuation of goodwill class 12 in hindi) में  हमने जाना की goodwill valuation कैसे करते है ? इसके कितने methods होते है ? ख्याति के मूल्यांकन,औसत लाभ विधि क्या है ? अधि -लाभ विधि क्या है ? औसत लाभ विधि का सूत्र के नियम ,पूँजीकरण विधि  क्या है ? औसत लाभ पूंजीकरण विधि क्या है ? इसके अतिरिक्त आप हमें comment करके अपने सवाल को प्राप्त कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *